Monday, January 31, 2011

New Voice from India in Nauhakhwani : Safdar Hussain Zaidi

Nauha reciters and poets are playing great role to promote our Azadari World Wide. It may be Nadeem Sarwar from Pakistan or Ameer Hasan Aamir from India or Rehan Azmi, Mazhar Abdi (Pakistan), Janab Nayyar Jalalpuri, Shams Rizvi (India), their matchless poetry and melodious voice of nauhakhwans making this effort more smooth. By the grace of our Imams this year both countries witnessed new voices and poets in this field.

Noted Urdu Poet Janab Shams Rizvi recommended us this young Nauhakhwan Syed Safdar Hussain Zaidi, whose new album released this year. We at Shiaazadari.com welcome this type step to promote our Azadri. We request all our momneen whenever you find any new voice or kalams please recommend them. It will be service to our Azadari.

You can explore more videos of nauhey, matam, marsia,majalis at our YouTube Channel 
दुनियाभर में अजादारी को फैलाने में हमारे नौहाख्वान और शायर बहुत अहम रोल अदा कर रहे हैं। चाहे वह पाकिस्तान के नदीम सरवर हों या फिर भारत के अमीर हसन आमिर या शायरों में जनाब रेहान आजमी, मजहर आब्दी (पाकिस्तान), नैयर जलालपुरी, शम्स रिजवी (भारत) हों, इनकी शानदार शायरी और आवाज की बदौलत अजादारी की मुहिम को और भी आसान बना रही है। हमारे इमामों की दुआओं के चलते ही इस साल भी दोनों मुल्कों में कई उभरती हुआ आवाजें और शायरी अजादारी को परवान चढ़ाने सामने आईं।

शायर-ए-अहलेबैत जनाब शम्स रिजवी साहब ने हमें उभरते हुए नौजवान नौहाख्वान सैयद सफदर हुसैन जैदी के बारे में जानकारी दी। नौहों का उनका नया अलबम इसी साल जारी हुआ है। मोमनीन से गुजारिश है कि जहां भी वे इस तरह की आवाज सुनें तो उसे शिया अजादारी डॉट कॉम को भी बताएं। यह भी अजादारी की मुहिम को आगे बढ़ाने में और कामयाबी दिलाएगी।

आप नौहे, मातम, मरसिया और मजलिस के अन्य विडियो हमारे यूट्यूब चैनल पर भी देख सकते हैं।

पेश है सफदर की आवाज में कुछ नौहे

Nauha: aaj maloom hua mughko yateemi kya hai...Safdar Hussain Zaidi




Nauha: Al-Mehndi (12th Imam) adrikni...Safdar Hussain Zaidi






Nauha: quaid main pucheti hain bali Sakeena...Safdar Hussain Zaidi




Nauha: hai main lut gayee baba...Safdar Hussain Zaidi






Nauha: Hussain ganj-e-shaheeda banane wale hain...Safdar Hussain Zaidi




Nauha: ye ban karte the ro-ro kar shah-e-karbala...Safdar Hussain Zaidi




Nauha: sar se chin gayee chadar by Safdar Hussain Zaidi




Nauha : Ali Mola...Ali Mola by Safdar Hussain Zaidi




1 comment:

Shakir Kazmi said...

Salam likum. I am proud of having passed 15 glorious of my childhood from 1932 to dec.1947 inthe nearest street known as gali masjid khajoor eali and have attended all events held in dargah panja shareef. Yet I like to wander in this area through google earth and feel happiness. What a place for me. If somebody wishes can leave a message on my e-mail address ( shakir1_kazmi@yahoo.com )